Saiyam Marg…Chalo

संयम मार्ग… चलो

संयम मार्ग चलो…. हो मनवा..- – संयम मार्ग चलो…

चलो रे चलो संयम मार्ग चलो…

इक ओर है, दुनिया सारी (२), इक ओर है अरिहंत….

भितर की, जो बातें जाने (२), कवो है साधु संत..

ध्यान प्रभु का धरो… हो मनवा… ध्यान प्रभु का धरो….

संयम मार्ग..

मन तो चंचल, मन तो भोगी (२), मन को भावे मोती…

गुरूकुपा से, प्रगट होती है (२), छिपी हुई ये ज्योति…|

इस ज्योति को पढ़ो… हो मनवा… इस ज्योति को पढ़ो

संयम मार्ग…

ये भी मेरा, वो भी मेरा (२), क्यों है ऐसी माया…

अपने होने, का प्रयोजन (२), ढूँढ रही है कार्ा….

साँस समर्पित करो… हो मनवा… साँस समर्पित करो…

संयम मार्ग…

Name of Song : Saiyam Marg…Chalo

Language of Song : Hindi

© 2023 by Jain Lyrics.