Param Guru

परम गुरु…

परम गुरु उपकार तेरा तुने, हमें अपनाया है.

हे परम गुरु उपकार…

पुण्य उदय से, आत्मा पाने का अवसर आया है..

परम गुरु उपकार तेरा तुने, हमें अपनाया है..

पुण्य उदय से, आत्मा पाने का अवसर आया है,

अब जानेंगे स्व को हम,

क्या पाया है ये जीवन ?

क्यों जन्मों से भटक रहे ?

क्यूँ न कटे अब तक बंधन ?

पर से प्रीत लगाकर हमने, सदा सुख पाया है,

पुण्य उदय से, आत्मा पाने का अवसर आया है…

पर से नाता तोड़ा है, खुद से नाता जोड़ा है…

आतम सुख पाने को अब,

जग के सुख को छोड़ा है…

सद्गुरु तेरी कृपा से ही ये जीवन पाया है,

पुण्य उदय से, आत्मा पाने का अवसर आया है,

परम गुरु उपकार तेरा तुने, हमें अपनाया है.

Name of Song : Param Guru

language of Song : Hindi

© 2023 by Jain Lyrics.