Mahaveer sa mujhko ban jana hai

HINDI

https://youtu.be/ZIsB8T6J-18


जो युद्ध हारे मैदानो मे , वह इंसान वीर कहा जाये , जो युद्ध हारे आपने मन मे , वह महावीर सा बान जाये। महावीर........ हालात बड़े ही मुश्किल है , पर हिम्मत मैं ना हारूंगा , महावीर की सन्तान हूँ मैं , फिर बनके शेर दहाडुंगा। तूने मुश्किल हालातो में भी , मन मे आपने धीर रखा , इन कर्म की बदौलत ही , तू वर्धमान महावीर बना। हाँ मैने आब ठाना है , वह युग वापस लाना है , अन्दर का अब वीर जगाना है। जो तूने सिखलायी थी , वह बातें अपनाना है , महावीर सा मूझको बन जाना है। महावीर तेरी सन्तानो की , मैने लाख दुआएं पायी थी , जब मौत सामने थी मेरे , मैने मौत को आंख दिखाई थी। तूने कितने उपसर्ग साहे , तुझे कितनी आँचें आयी थी , जब चण्डकोशिक ने डांक किया , तूने दूध की नदी बहाई थी। हाँ मैने आब ठाना है , वह युग वापस लाना है , अन्दर का अब वीर जगाना है। जो तूने सिखलायी थी , वह बातें अपनाना है , महावीर सा मूझको बन जाना है। हर दर्द मेरा तकलीफ मेरी , मुझे तेरी याद दिलाती है , जब सोचता हूँ तेरे बारे में , मेरे आसूं तक रो जाता है। इन साँसों पे अब हक है तेरा , तेरे नाम से खुदको सवारूँगा , यह दाग नहीं है गर्व मेरा , मैं फिरसे इन्हे निखरुंगा। हाँ मैने आब ठाना है , वह युग वापस लाना है , अन्दर का अब वीर जगाना है। जो तूने सिखलायी थी , वह बातें अपनाना है , महावीर सा मूझको बन जाना है।

© 2023 by Jain Lyrics.