Jo Nayan Kholte Hai

जो नयन खोलते है

जो नयन खोलते हैं, मेरे सामने हो गुरुवर,

सुमिरन करूं क्या तेरा, दूर नहीं हो एक पल…

जो नयन खोलते हैं..

स्मरण किया है मैंने, कितने जनम से गुरुवर,

पुण्य खिले हैं मेरे, पूज्य गुरु तुमको पाकर,

बहेता रहे अविरल, तेरी कृपा का ये जल…

तेरी कृपा का यो जल…

जो नयन खोलते हैं…

रनर हत ह त क (२)

मन के छोटे मंदिर में, बैठे हो बनके भगवन्,

अंतर झुके चरणों में, हर साँस करती वंदन,

जब ध्यान में हो तेरे, खिलता हृदय कमल…

खिलता हृदय कमल…

जो नयन खोलते हैं…

कोई घड़ी ना ऐसी, जब ना हो तेरा चिंतन,

अंतर की डोर तुझसे, लागी तुझ में लगन,

संग रहे तेरा साया, पाऊँ जितने जनम…

पाऊँ जितने जनम…

जोनयर खोलते हैं…

Name of Song : Jo Nayan Kholte Hai

Language Of Song : Hindi

© 2023 by Jain Lyrics.