Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

English

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai,

Tera Aanchal K Saaye Mei Badli Taqdeer Ki Rekha Hai,

Kaha Se Bhaav Wo Laau Jismei Tum Leen Rehte Ho,

Kaha Wo Sthaaan Mei Paau Jaha Bas Tum Hi Rehte Ho

Kaha Se Bhaav Wo Laau Jismei Tum Leen Rehte Ho,

Kaha Wo Sthaaan Mei Paau Jaha Bas Tum Hi Rehte Ho

Jaha Bas Tumhi Rehte Ho Jaha Bas Tumhi Rehte Ho

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

Rakhu Jaha Mei Kadam Guruvar Wahi Karmo Ka Pehera Hai

Tere Aanchal Ki Saaye Mei Badli Kismat Ki Rekha Hai,

Rakhu Jaha Mei Kadam Guruvar Wahi Karmo Ka Pehera Hai

Tere Aanchal Ki Saaye Mei Badli Kismat Ki Rekha

Badli Kismat Ki Rekha Hai Badli Kismat Ki Rekha Hai

Badli Kismat Ki Rekha Hai Badli Kismat Ki Rekha Hai

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

Tuje Mei Dhyan Mei Dekhu Tuje Ekaant Mei Dhundu

Jaanta Hu Guru Tujbin Na Koi Ashtitwa Mera Hai

Na Koi Ashtitwa Mera Hai Na Koi Ashtitwa Mera Hai

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

Mann Mei Sunu Teri Vaani Bahe Aankho Se Mere Paani

Rahu Me Jaha Bh Ab Hota Muje Aabhaas Tera Hai

Muje Aabhaas Tera Hai Muje Aabhaas Tera Hai

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

Mere Antar Se Sada Aaye Banjaau Teri Parchaai

Bina Jo Tum Jahaan Guruvar Wahi Mera Bhi Basera Ho

Wahi Mera Bhi Basera Howahi Mera Bhi Basera Ho

Hui Prabhu Ki Krupa Aisi Mila Sanidhya Tera Hai

Tera Aanchal K Saaye Mei Badli Taqdeer Ki Rekha Hai,

Badli Taqdeer Ki Rekha Hai, Badli Taqdeer Ki Rekha Hai.


HINDI

हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है, तेरा आँचल के साये में बदली तक़दीर की रेखा है, कहा से भाव वो लाउ जिसमें तुम लीन रहते हो, कहा वो स्थान मैं पाउ जहा बस रहते हो, कहा से भाव वो लाउ जिसमें तुम लीन रहते हो, कहा वो स्थान मैं पाउ जहा बस रहते हो, जहा बस रहते हो जहा बस रहते हो, हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है..

राखु जहा में कदम गुरुवार वही कर्मो का पेहेरा है, तेरे अंचल के साये में बदली किस्मत की रेखा है , राखु जहा में कदम गुरुवार वही कर्मो का पेहेरा है, तेरे अंचल के साये में बदली किस्मत की रेखा है , बदली किस्मत की रेखा है बदली किस्मत की रेखा है, बदली किस्मत की रेखा है बदली किस्मत की रेखा है, हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है..


तुझे मैं ध्यान में देखूं तुझे एकान्त में धुंडु , जानता हु गुरु तुजबिन ना कोई अश्तित्वा मेरा है , ना कोई अश्तित्वा मेरा है ना कोई अश्तित्वा मेरा है , हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है.. मन में सुनु तेरी वाणी बहे आँखों से मेरे पानी , राहु मैं जहा बह अब होता मुझे आभास तेरा है , मुझे आभास तेरा है मुझे आभास तेरा है , हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है..


मेरे अंतर से सदा आये बनजाउ तेरी परछाई , बिना जो तुम जहां गुरुवार वही मेरा भी बसेरा हो , वही मेरा भी बसेरा होवहि मेरा भी बसेरा हो, हुई प्रभु की कृपा ऐसी मिला सानिध्य तेरा है, तेरा आँचल के साये में बदली तक़दीर की रेखा है, बदली तक़दीर की रेखा है बदली तक़दीर की रेखा है...

© 2023 by Jain Lyrics.