DHUNDE TU KYU USKO

ENGLISH

Dhunde Tu Kyu Usko Yu Darrbadar, Baitha Hai Wo Tere Mann K Andar,

Aakhe Apni Bandh Kar Dilse Usko Yaad Kar, Dikh Jaega Wo Phir Bas Uspe Tu Vishwas Kar,

Kaaam Nhi Tera Jab Banta Tu Hai 100 Bhagwan Badalta, Phir Kehta Hai Teri Wo Nahi Sunta,

Aankh Mund Kar Tu Ha Chalta Apne Hi Bhagya Se Darta, Phir Kehta Hai Wo Teri Jholi Nahi Bharta

Ishwar Ha Uska Jo Karam Ha Karta, Ishwar Hai Uska Mann Saaf Jo Rakhta (2)

Chaadar Chunar Dudh Chadhaaye, Mann K Andar Bair Samaye,

Phir Baithe Ishwar Se Tu Aas Lagaye, Tu Itnasa Nahi Samajta,

Q Sabse Tu Aas Hai Rakhta, Khudpar Tu Q Pagal Vishwas Na Rakhta,

Ishwar Ha Uska Jo Karam Ha Karta, Ishwar Hai Uska Mann Saaf Jo Rakhta (2)



ढूंढे तू क्यों उसको यु दरबदर , बैठा है वो तेरे मन के अंदर , आंखे अपनी बांध कर दिलसे उसको याद कर , दिख जायेगा वो फिर बस उसपे तू विस्वाश कर , काम नहीं तेरा जब बनता तू है १०० भगवन बदलता , फिर कहता है तेरी नहीं सुनता, आंख मुंड कर तू है चलता अपने ही भाग्य से डरता , फिर कहता है वो तेरी झोली नहीं भरता , ईश्वर है उसका जो काम है करता, ईश्वर है उसका मन साफ़ जो रखता। (२) चादर चुनार दूध चढ़ाये , मन के अंदर बैर समाये , फिर बैठे ईश्वर से तू आस लगाए , तू इतनासा नहीं समझता, क्यू सबसे तू आस है रखता , खुदपर तू क्यू पागल विश्वास ना रखता , ईश्वर है उसका जो काम है करता, ईश्वर है उसका मन साफ़ जो रखता। (२)


© 2023 by Jain Lyrics.